कैमारा की आँखे हमारी आँखे से तेज होती हैँ जो सुन्दता को आसानी समझ कर कैद कर लेती हैँ photography: प्राकृतिक आर्ट फोटोग्राफ

आप जो फोटोग्राफ देख रहे हो यह किसी कैमरा से नहीँ लिया गया हैँ बल्कि
साधारण मोबाईल Nokia 2700 c 2 से लिया गया इसी कारण इन फोटो मेँ वो
सुन्दरता नहीँ हैँ जो आपका <a
href="http://rsdiwraya.blogspot.in/2014/08/natural-photography.html">मनमोहित
कर</a> सके । लेकिन एक बात साफ हो गई कि सुन्दरता कैमरा मेँ नहीँ होती
हैँ बल्कि प्रकृति मेँ हैँ लेकिन हम उसको अपनी आँखो से देख नहीँ पाते
हैँ। कैमरे की आँखे सुन्दता को आसानी पहचान लेती हैँ लेकिन कभी कभार
कैमरामैँन का हाथ उसका साथ नहीँ देता हैँ।

No comments:

Post a Comment

अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो अपने विचार दे और इस ब्लॉग से जुड़े और अपने दोस्तों को भी इस ब्लॉग के बारे में बताये !